Uncategorized

सुल्तानपुर कस्बे में किसानों ने आक्रोश रैली निकालकर किया प्रदर्शन

संजय कुमार

कोटा /सुल्तानपुर 6 मार्च ।भारतीय किसान संघ सुल्तानपुर तहसील के किसानों ने राज्य सरकार की वादाखिलाफी पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कस्बे में तहसील अध्यक्ष अखिलेश दाधीच, ब्रह्मानंद शर्मा के नेतृत्व में मण्डी प्रांगण से विद्यापीठ, भौंरा चौराहा, बस स्टैण्ड, पुलिस थाने होते हुए उप तहसील तक रैली निकालकर किया प्रदर्शन। किसान नारे लगाते हुए “वादा किया है, वादा निभाओ। गेंहू 2700 रू प्रति क्विंटल पर तुलाओं।” “नहीं किसी से भीख मांगते,हम अपना अधिकार मांगते।”किसानों का शोषण नहीं चलेगा, नहीं चलेगा नहीं चलेगा।”आदि नारों के साथ आक्रोश व्यक्त करते हुए रैली के रुप में उप तहसील कार्यालय पहुंचकर नायब तहसीलदार राजेश जैन को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया गया।

प्रदेश मंत्री जगदीश कलमंडा, जिला उपाध्यक्ष मुकुटबिहारी नागर ने कहा कि भाजपा ने विधान सभा चुनाव घोषणा पत्र में वादा किया था कि हमारी सरकार आने पर गेंहू की समर्थन मूल्य पर 2700 रू प्रति क्विंटल से खरीद की जायेगी और किसानों ने विश्वास करते हुए भाजपा को सत्ता तक पहुंचाया किन्तु दुर्भाग्य रहा कि सरकार में आने के बाद अपने वादे से मुकर गए और गेंहू की खरीद 2400 रू प्रति क्विंटल पर खरीद की घोषणा की है जो किसानों के साथ बहुत बड़ा धोखा है इसे भारतीय किसान संघ बर्दाश्त नहीं करेगा और सरकार से मांग करता है कि वादे के अनुसार गेंहू की खरीद 2700 रू प्रति क्विंटल से करें अन्यथा भारतीय किसान संघ आंदोलन करेगा। ज़िला सह मंत्री पवन शर्मा, तहसील मंत्री शिवराज योगी ने बताया कि ज्ञापन में मुख्यमंत्री महोदय से मांग की गई है कि सरसों, चना की समर्थन मूल्य पर तुरन्त खरीद प्रारम्भ करें और किसानों की सम्पूर्ण जिंस खरीदकर सरसों, चना पर 500 रू प्रति क्विंटल का बोनस देकर किसानों को लाभान्वित करें। साथ में अतिवृष्टि से नष्ट हुई फसलों का सर्वे कराकर किसानों को आदान अनुदान योजना में मुअवजा देकर, प्रधानमन्त्री फसल बीमा का लाभ दिया जाए। प्रर्दशन में तहसील उपाध्यक्ष राधेश्याम नागर, कार्यालय मंत्री राम शर्मा, नगर अध्यक्ष दिनेश शर्मा, तहसील युवा प्रमुख जुगराज मीणा, भवानी शंकर नागर, मुकेश कटारिया, मोनू शर्मा, प्रीतम गोत्तम, गिरीराज नागर, कपिल राठौर, संदीप शर्मा लाला, मुकेश राठौर, श्याम शर्मा, लड्डू मीणा, ऋषि शर्मा आदि किसान उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button